परिवार के बुज़ुर्ग सदस्य को ऐसे बनाएं स्मार्ट फोन फ्रेंडली

बदलते समय के साथ जैसे हमने खुद को बदला है, कुछ ऐसे ही बदलाव की ज़रूरत घर के बुज़ुर्गों को भी है. इस लिस्ट में सबसे पहला और बड़ा बदलाव होना उनके फोन से संबंधित होना चाहिए. कई घर ऐसे हैं, जहां आज भी 50 और उससे अधिक उम्र वाले लोग अब भी फीचर फोन का ही इस्तेमाल करते हैं. घर वालों का भी इस ओर ख़ास ध्यान नहीं जाता, क्योंकि उन्हें लगता है कि स्मार्ट फोन से जुड़ी कई बातें बुज़ुर्गों के पल्ले नहीं पड़ेंगी.

हमें यह समझना चाहिए कि बुज़ुर्गों के लिए भी फीचर फोन से स्मार्ट फोन पर स्विच करना बेहद ज़रूरी है. ऐसा करने से वे देश दुनिया से जुड़ी हर ख़बर पाने के साथ-साथ, अपनी विश लिस्ट में जुड़ी चीज़ों को ऑर्डर करने के अलावा रिश्तेदारों के संपर्क में बने रहेंगे. कई बार एमरजेंसी की स्थिति में वे स्मार्ट फोन का इस्तेमाल कर पाएंगे. अगर आपके घर पर भी कोई बुज़ुर्ग हैं, तो उन्हें स्मार्ट फोन फ्रेंडली बनाने के तरीके और उसके फायदे के बारे में जानें.

ये भी पढ़ें : बच्चे और ग्रैंड पेरेंट्स का रिश्ता मज़बूत बनाने के लिए अपनाएं ये 5 तरीके

बुज़ुर्गों को कैसे बनाएं स्मार्ट फोन फ्रेंडली?

स्मार्ट फोन गिफ्ट करें – किसी शुरुआत के लिए इंतज़ार करने की बजाय उसके लिए कदम उठाना ज़रूरी है. घर के बुज़ुर्ग सदस्य की सहमति पाने का इंतज़ार न करें. उन्हें स्मार्ट फोन गिफ्ट करें. एक बार अगर उनके लिए स्मार्ट फोन खरीद लिया जाए, तो वे इसे धीरे-धीरे इस्तेमाल करने लगेंगे.

फोन से गैर ज़रूरी ऐप हटाएं – स्मार्ट फोन में कुछ ऐप पहले से इंस्टॉल रहते हैं. अगर आपको लगे कि आपने जिनके लिए फोन लिया है, उन्हें इसकी ज़रूरत नहीं पड़ेगी, तो इन ऐप्स को फोन से हटा दें, ताकि वे मोबाइल यूज करते हुए कंफ्यूज न हों.

उन्हें फोन के फायदे बताएं – मैप से लेकर बोलकर किसी भी सवाल का समाधान पाने से जुड़ी ख़ासियत जान लेने के बाद घर के बुज़ुर्ग सदस्य भी इसे इस्तेमाल करना चाहेंगे. कहीं जानें से लेकर अपनी किसी जिज्ञासा को शांत करने के लिए उनके पास विकल्प मौजूद होगा.

ये भी पढ़ें : बच्चे को इमोशनली और मेंटली मज़बूत बनाने के लिए अपनाएं ये टिप्स

सोशल मीडिया अकाउंट बनाएं – स्मार्ट फोन गिफ्ट करने के साथ ही घर के बुज़ुर्ग सदस्य का सोशल मीडिया अकाउंट बनाएं और उन्हें रिश्तेदारों और बचपन के दोस्तों को ढूंढने में मदद करें. यह न सिर्फ उन्हें खुशी देगा, बल्कि उन्हें बोरियत और खालीपन से बचाएगा.

बुज़ुर्गों को बताएं स्मार्ट फोन के फायदे
– वे अपने उन दोस्तों को ढूंढ सकते हैं, जिनसे उनकी दोस्ती बचपन में थी और अब वे संपर्क में नहीं हैं.
– कहीं जाने के लिए अपनी सुविधानुसार कैब कर सकते हैं. किसी के भरोसे रहने की ज़रूरत नहीं.
– घर की ज़रूरत से जुड़ी चीज़ें ऑनलाइन मंगवा सकते हैं, कहीं जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी.
– देश-दुनिया से जुड़ी ख़बरें कहीं पर भी रहकर आसानी से पा सकते हैं.
– रिश्तेदारों और ख़ास लोगों से वीडियो कॉल के ज़रिए जुड़े रह सकते हैं.
– पढ़ने का शौक है और छोटे अक्षर नहीं पढ़ पाते हैं, तो मोबाइल पर स्क्रीन ज़ूम का पढ़ सकते हैं.
– अपने मनोरंजन के लिए गाने सुन सकते हैं और  वीडियो देख सकते हैं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Lifestyle, Relationship, Smartphone

3 thoughts on “परिवार के बुज़ुर्ग सदस्य को ऐसे बनाएं स्मार्ट फोन फ्रेंडली

  1. Excellent weblog right here! Also your website lots up fast!

    What web host are you the use of? Can I am getting your affiliate
    link for your host? I desire my web site loaded up as quickly as yours
    lol

  2. We are a bunch of volunteers and opening a new scheme in our community.
    Your site provided us with valuable info to work on. You’ve performed a
    formidable job and our whole community shall be thankful to you.

  3. I really love your website.. Pleasant colors & theme.
    Did you build this amazing site yourself? Please reply back as I’m wanting to
    create my very own website and would like to find out
    where you got this from or just what the theme is called.
    Appreciate it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.